वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बजट भाषण।

🛑वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा कि ‘सरकार एक करोड़ युवाओं को अगले...

दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में पेश किया आम बजट 2024-25

➡भारत में महंगाई दर करीब 4 फीसदी ➡भारतीय अर्थव्यवस्था चमक रही है ➡ग्लोबल इकॉनमी मुश्किल दौर में है...

Kanpur : रेलबाजार पुलिस की वाहन चोर से मुठभेड़…

कानपुर की रेलबाजार पुलिस और शातिर बदमाश में रविवार देर रात रेलबाजार लोको कॉलोनी में मुठभेड़ हो गई।...

प्रयागराज में पहली बार एके-47 से हुई थी विधायक की हत्या, आरोपी उदयभान करवरिया को मिली रिहाई

बालू ठेकों के वर्चस्व में प्रयागराज में पहली बार 1996 में एके-47 से हत्या की गई थी। सरकार बदली, तो...

सुनियोजित विकास को आगे बढ़ाने में सहायक होगी फैमिली आईडी : सीएम

विज्ञापन योगी ने की जिला घरेलू उत्पाद अनुमान (डीडीपी) 2022-23 पुस्तिका के आंकड़ों की समीक्षा वर्ष...

Kanpur News: ‘मुकदमा लो वापस वरना छाती पर पड़ेगी गोली’, बाइक सवार बदमाशों ने अधिवक्ता के घर की फायरिंग..

विज्ञापन Kanpur News: अधिवक्ता अश्वेंद्र सोनकर ने कहा कि उनका अशोक और सजल के साथ विवाद चल है....

‘सौ लाओ, सरकार बनाओ’, अखिलेश यादव के मॉनसून ऑफर ने बढ़ाया यूपी का सियासी पारा।

समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव लगातार यूपी की योगी सरकार पर हमला कर रहे हैं। अब अखिलेश ने...

कानपुर में सैकड़ों की संख्या में चल रहे अवैध हुक्का बार, नशा परिवारों को झोंक रहा तबाही के द्वार-ज्योति बाबा…

विज्ञापन कानपुर : विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों के अनुसार तंबाकू का दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता और...

कानपुर में जमीनों का नया सर्किल रेट जारी, जमीन खरीदने के लिए अब इतनी ढीली करनी होगी जेब, देख लीजिए लिस्ट

विज्ञापन Kanpur New Circle Rate of Land: कानपुर में जमीनों के दाम में वृद्धि हो गई है। नए सर्किल...
Information is Life

UP News: इंस्टाग्राम रील की वजह से 18 साल पहले बिछड़े भाई-बहन फिर मिल गए हैं. ये हैरान कर देने वाला मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर से सामने आया है. जानिए आखिर हुआ क्या?

UP News: सोशल मीडिया रील कभी-कभी बिछड़े रिश्तों को भी मिलवा देती हैं. उत्तर प्रदेश के कानपुर से जो मामला सामने आया है, उसने हर किसी को चौंका दिया है. यहां सोशल मीडिया रील की वजह से एक बहन को उसका भाई 18 साल बाद मिल गया. 18 साल पहले बिछड़े शख्स की मुलाकात सोशल मीडिया रील की वजह से ही अपने परिवार से हो पाई.

इंस्टाग्राम रील ने इस बार कर दिया कमाल
दरअसल ये कहानी महाराजपुर के हाथीपुर गांव से शुरू होती है. यहां रहने वाली राजकुमारी अपने परिवार के साथ रहती है. वह सोशल मीडिया पर भी एक्टिव रहती है. राजकुमारी का भाई गोविंद 18 साल पहले लापता हो गया था. राजकुमारी फतेहपुर की रहने वाली थी, जिसकी शादी हाथीपुर गांव में हुई थी. राजकुमारी का भाई गोविंद सालों पहले गांव के कुछ लोगों के साथ नौकरी करने के लिए मुंबई गया था. मुंबई जाते ही उसने अपने दोस्तों से अलग दूसरी जगह नौकरी शुरू कर दी.

इस दौरान गोविंद की सेहत खराब रहने लगी. उसने सोचा कि वह अपने घर वापस चला जाएगा. मगर उसने ट्रेन गलत पकड़ ली. उसे जाना कानपुर था. मगर वह राजस्थान के जयपुर जा पहुंचा. यहां आकर उसके सारे पैसे खत्म हो गए. ऐसे में उसने यहां आते ही फैक्ट्री में काम करना शुरू कर दिया. उसे लगा कि वह जल्द ही अपने परिवार से संपर्क कर लेगा और वापस कानपुर चला जाएगा. मगर तभी उसे कुछ दिमागी समस्या हो गई और वह अपने घर-परिवार के बारे में काफी कुछ भूल गया.

गोविंद ने इस दौरान एक लड़की से शादी कर ली और वह फैक्ट्री में ही काम करता रहा. शादी के बाद उसके 2 बच्चे भी हो गए. काफी समय गुजर जाने के बाद गोविंद को धीरे-धीरे अपने घर-परिवार की याद आने लगी और उसे समझ आने लगा कि वह कहां का रहने वाला है. मगर इतने सालों बाद अब उसे लगने लगा कि शायद उसके परिवार वाले ही उसे भूल गए होंगे. ऐसे में वह अपनी जिंदगी में आगे बढ़ गया.

एक दांत की वजह से बहन ने भाई को पहचान लिया
दूसरी तरफ गोविंद का परिवार भी अपने बेटे को भूल चुका था. मगर उसकी बहन राजकुमारी को अपने भाई की याद आती थी. एक दिन राजकुमारी इंस्टाग्राम पर रील देख रही थी. तभी उसे एक रील दिखी, जिसपर उसने गौर करना शुरू किया. दरअसल रील में जो शख्स दिख रहा था, उसका आधा दांत टूटा हुआ था.

राजकुमारी को देखकर लगा कि रील में दिख रहे शख्स की नजर उनके पिता से भी मिल रही थी. इसके बाद महिला ने देखा कि उस पेज से कई रील बनाई गई हैं. सोशल मीडिया पेज पर जयपुर की रील बनाई गई थी. राजकुमारी समझ गई कि रील में दिख रहा शख्स उसका बिछड़ा हुआ भाई है, जो 18 साल पहले लापता हो गया था.

राजकुमारी का कहना है इसके बाद उसने इंस्टाग्राम पर ही गोविंग को मैसेज किया. उससे बात करने की कोशिश की. शुरू में तो गोविंद ने बात करने से मना कर दिया. मगर जब उसे लगा कि शायद वह अपनी बहन से बात कर रहा है, तो वह बात करने के लिए राजी हो गया. राजकुमारी ने अपने भाई गोविंद से गुजारिश की कि वह लौट आए और अपने परिजनों से मुलाकात करे. ये सुनते ही गोविंद वापस आने और परिजनों से मिलने के लिए तैयार हो गया.

बहन से मिलने वापस आ गया भाई
बता दें कि गोविंद जयपुर से ट्रेन पकड़कर वापस कानपुर आ गया और उसने हाथीपुर गांव में आकर अपनी बहन राजकुमारी से मुलाकात की. कल यानी 27 जून के दिन ही गोविंद बहन से मिलने कानपुर आया. अपने भाई को 18 साल बाद देखकर राजकुमारी को लगा कि उसे उसकी दुनिया ही मिल गई.

बता दें कि इस दौरान राजकुमारी ने अपने मायके वालों को भी गांव बुला लिया. ऐसे में गोविंद से उसके पूरे परिवार ने मुलाकात की. परिवार से 18 साल बाद मिलने के बाद गोविंद भी भावुक हो गया. परिवार ने गोविंद का खूब स्वागत सत्कार किया.

परिवार से 18 साल बाद मिलने के बाद गोविंद ने कहा कि उसे दिमागी बीमारी हो गई थी और वह अपने परिवार को भूल गया था. जब परिवार याद आया तब लगा कि इतने सालों बाद उसे कौन ही पहचानेगा. मगर जब बहन ने खोजा और मैसेज आया तब पत्नी ने भी कहा कि अगर परिजन पहचान रहे हैं, तो उसने मिलना चाहिए. फिलहाल ये पूरा मामला चर्चाओं में बना हुआ है.


Information is Life