Kanpur : MLA अमिताभ बाजपेयी Satarday को देंगे गिरफ्तारी, Police Commissioner को पत्र भेजकर दी सूचना।

कानपुर : पुलिस से झड़प में सपा विधायक व कांग्रेस प्रत्याशी समेत 200 लोगों पर दर्ज मुकदमें में सपा...

कानपुर के “हर्षद मेहता” शेयर ब्रोकर संजय सोमानी को 22 करोड़ के घोटाले में 3 और सीए को 5 साल की सजा।

वर्ष 1994 में इलाहाबाद बैंक कानपुर में हुआ था घोटाला, 30 साल बाद आया फैसला लखनऊ। बहुचर्चित संजय...

IAS-IPS अफसरों की सियासत में एंट्री : आज इस्तीफा कल चुनाव।

IAS-IPS In Politics : 1993 में केंद्रीय गृह सचिव नरिंदर नाथ वोहरा की अगुआई में एक कमेटी बनी। इसे...

IIT से बीटेक, फिर IPS और अब IAS टॉपर काफी रोचक है आदित्य श्रीवास्तव की कहानी

आदित्य के पिता अजय श्रीवास्तव सेंट्रल ऑडिट डिपार्टमेंट में AAO के पद पर कार्यरत हैं। छोटी बहन...

कानपुर लोकसभा चुनाव 2024 : विकास के लिए समर्पित सांसद को चुनेंगे मतदाता।

(अभय त्रिपाठी) कानपुरः यूपी की कानपुर लोकसभा सीट को मैनचेस्टर ऑफ यूपी के नाम से जानी जाती है।...

Kanpur : भाजपा प्रत्याशी रमेश अवस्थी ने इंडी गठबंधन के प्रभाव वाले कैन्ट, आर्यनगर और सीसामऊ में तेज की कदमताल..

आर्यनगर की गलियों में जाकर जनता से मिले, मिला जनसमर्थन कानपुर। जैसे-जैसे मतदान की तारीख नजदीक आ...

Kanpur : भाजपा प्रत्याशी रमेश अवस्थी ने इंडी गठबंधन के प्रभाव वाले कैन्ट, आर्यनगर और सीसामऊ में तेज की कदमताल..

-आर्यनगर की गलियों में जाकर जनता से मिले, मिला जनसमर्थन कानपुर। जैसे-जैसे मतदान की तारीख नजदीक आ...

इतिहास के पन्नों में : कानपुर के इस इलाके को आखिर कैसे मिला तिलक नगर नाम??

(अभय त्रिपाठी) कानपुर : उत्तर प्रदेश की राजधानी तो नहीं है, पर इस सूबे का सबसे खास शहर तो है। एक...

#Kanpur : लोकसभा प्रत्याशी आलोक मिश्र और विधायक समेत 200 लोगों पर केस दर्ज, अमिताभ बोले लोकतंत्र नहीं लाठीतंत्र।

यूपी के कानपुर (Kanpur) में इंडिया गठबंधन (India Alliance) के लोकसभा प्रत्याशी और समाजवादी पार्टी...

Kanpur : चोरों के हौसले बुलंद,स्वरूप नगर में दिनदहाड़े चोर स्कूटी लेकर रफूचक्कर।

कानपुर : बेखौफ अपराधी पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था को धता बताते हुए शहर में ताबड़तोड़ चोरी की वारदातों...
Information is Life

कानपुर- मकान को कब्जाने के लिए दबंग भतीजों ने चाचा पर हमला कर दिया बीच-बचाव करने आये चचेरे भाई को भी नहीं बख्शा उसे छत से फेककर जान से मारने की कोशिश की। दबंगो ने सगे चाचा के परिवार पर लाठी-डंडे और धारदार हथियार से वार किया। चाचा के परिवार के लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया। वहीं, पीड़ित का आरोप है कि पुलिस को सूचना देने के बावजूद कोई कार्यवाही नही की गई, जिसके बाद पीड़ित ने मुख्यमंत्री और यूपी पुलिस को ट्वीट कर अपनी व्यथा बतायी जिसके बाद थाना पुलिस पीड़ित के घर तो पहुँची, लेकिन खानापूर्ति करके वापस लौट गई पीड़ित परिवार दबंगों के नंग नाच से सहमा हुआ है और न्याय की गुहार लगा रहा है। दिनदहाड़े हुई वारदात से इलाके में हड़कंप का माहौल है।

चमड़ा कारोबारी अहमद नादरी ने बताया कि उनके पिता अबरार हुसैन नादरी सीनियर सिटिजन है उनका पुश्तैनी मकान 95/62, तालाक महल, भैंसिया हाता, थाना बेकनगंज, कानपुर नगर में लगभग 300 वर्गगज का है जो कि तीन मंजिला का निर्माण है जिसमें ग्राउण्ड फ्लोर में पार्किंग एवम फर्स्ट फ्लोर में आधे हिस्से में उनका व दूसरे आधे हिस्से में चाचा ऐतिश्याम हुसैन अपने परिवार के साथ निवास करते है I उसके ऊपर सेकण्ड फ्लोर पर ताऊ अनवार हुसैन का परिवार निवास कर रहा है जिनका देहांत हो चुका है उनके बेटे खालिद नादरी व रिजवान नादरी दबंग व आपराधिक किस्म के हैं I अहमद के अनुसार पुश्तैनी मकान के ठीक पीछे मौजूद लगभग 150 वर्ग गज का मकान न. 95/63 को लगभग 20 वर्ष पूर्व उनके पिता अबरार ने खरीदा था मकान का रास्ता पिता द्वारा अपने पुश्तैनी मकान के अन्दर से खोल लिया गया था तथा अपने पुश्तैनी मकान के हिस्से एवम पिता द्वारा खरीदे गए मकान का इस्तेमाल 20 वर्षों से निरंतर किया जा रहा है मकान में अलग से बिजली का मीटर भी पिता के नाम पर लगा हुआ है लेकिन इधर ताऊ अनवार हुसैन के बेटे खालिद नादरी व रिजवान नादरी की नियत पिता के द्वारा खरीदे गए मकान पर खराब हो गयी है और उन्होंने कुछ दिनों पहले मकान की छत पर अपने हिस्से से दरवाजा खोल लिया है और विरोध करने बोले कि जल्द ही दरवाजा हटा देंगे। बकौल अहमद शनिवार की सुबह खालिद और रिजवान मकान की छत पर भवन निर्माण सामग्री एकत्र करके जबरन अवैध निर्माण करने जा रहे थे जिस पर पिता अबरार और अहमद ने विरोध किया तो आरोप है की खालिद और रिजवान ने पिता अबरार पर जानलेवा हमला कर दिया और जब अहमद ने बीच-बचाव किया तो खालिद और रिजवान ने गाली -गलौज देते हुए बेरहमी से पीटते हुए हत्या के इरादे से छत से फेंक दिया लेकिन किसी तरह परिवार जान बचाई, जिसके बाद रिजवान और खालिद ने चापड़ और पिस्टल लेकर धमकाया। जिसके बाद पीड़ित द्वारा बेकनगंज थाने में शिकायती प्रार्थना पत्र दिया लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की का परिवार दहशत में है।


Information is Life