Jyoti Murder Case Kanpur: हत्यारें पीयूष को न्यायालय से राहत नहीं…

अपर जिला जज कोर्ट ने 2022 में सुनाई थी छह को उम्र कैद की सजा.. उच्च न्यायालय से नहीं मिली राहत तो...

Kanpur लायर्स चुनाव का परिणाम घोषित,अध्यक्ष श्याम नारायण सिंह और अभिषेक तिवारी बने महामंत्री।

कानपुर : लायर्स एसोसिएशन के नये अध्यक्ष और महामंत्री चुन लिये गये हैं। .बुधवार देर शाम अध्यक्ष पद...

कानपुर के पोस्टर पर मचा बवाल राहुल गांधी ‘कृष्ण’ और अजय राय बने अर्जुन….

राहुल गांधी की भारत जोड़ा न्याय यात्रा कानपुर पहुंची है. कानपुर के एक कांग्रेस नेता द्वारा लगवाया...

पश्चिम बंगाल में रिपब्लिक बांग्ला के रिपोर्टर को किया गिरफ्तार,जर्नलिस्ट क्लब ने की कड़ी निन्दा।

पश्चिम बंगाल में ‘रिपब्लिक बांग्ला’ टीवी न्यूज़ चैनल के पत्रकार सन्तु पान को गिरफ्तार कर लिया गया...

रेड टेप कल्चर’ को ‘रेड कार्पेट कल्चर’ में बदला, UP ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में बोले PM मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं जब भी विकसित भारत की बात करता हूं तो इसके लिए नई सोच की बात करता...

IPS Amitabh Yash: एनकाउंटर स्पेशलिस्ट अमिताभ यश बने यूपी के नए ADG ला एंड ऑर्डर, जाने इनके बारे में।

IPS Amitabh Yash: यूपी पुलिस के सबसे चर्चित अधिकारियों में शामिल आईपीएस अमिताभ यश एडीजी ला एंड...

Kanpur News : पूर्व शिक्षा मंत्री अमरजीत सिंह जनसेवक का निधन

पूर्व शिक्षा मंत्री अमरजीत सिंह जनसेवक (71) का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि ठंड लगने से...

यूपी में पांच आईपीएस अफसरों का तबादला। विपिन मिश्रा कानपुर में एडिशनल सीपी।

यूपी में पांच आईपीएस अफसरों का तबादला। विपिन मिश्रा कानपुर में एडिशनल सीपी। कमलेश दीक्षित डीसीपी...

#Kanpur News : जेके कैंसर बने रीजनल सेंटर, बढ़ेंगी सुविधाएं…

➡️चौथी बार उठी मांग, विधानसभा की याचिका कमेटी को दिया गया पत्र। कानपुर। जेके कैंसर को रीजनल सेंटर...

राज्यसभा चुनाव: सुधांशु त्रिवेदी, अमरपाल मौर्या और आरपीएन सिंह बीजेपी से प्रत्याशी, बीजेपी ने जारी की सूची

Rajya Sabha elections: राज्यसभा की दस सीटों के लिए होने वाले चुनाव में बीजेपी की तरफ से सुंधाशु...
Information is Life

Irfan Solanki Case: कूटरचित पहचान पत्र बना दिल्ली से मुम्बई हवाई यात्रा करने का मामला

कानपुर : कूटरचित पहचान पत्र बनाकर दिल्ली से मुम्बई हवाई यात्रा करने के मामले में सपा विधायक इरफान सोलंकी की जमानत याचिका पर कमिश्नरेट पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट में अपना जवाब दाखिल कर दिया है। पुलिस ने विधायक को बाहुबली बताते हुए उनके खिलाफ दर्ज 18 मुकदमे और हाईकोर्ट की जमानत निरस्त करने वाली तल्ख टिप्पणी को मजबूत आधार बनाया है।

23 अगस्त को इस मामले की सुनवाई करेगी कोर्ट
सपा विधायक इरफान सोलंकी ने अपने खिलाफ जाजमऊ थाने में दर्ज कूटरचित पहचान पत्र बनाकर दिल्ली से मुम्बई हवाई यात्रा करने के मामले में सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की थी। इस प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट ने 21 बिंदुओं पर जवाब मांगा था। पुलिस ने सभी 21 बिंदुओं पर जवाब बनाकर अपने वकील को सौंप दिया है और पुलिस का जवाब सुप्रीम कोर्ट में दाखिल भी हो गया है। अब अदालत 23 अगस्त को इस मामले की सुनवाई करेगी।

पुलिस ने र‍िपोर्ट में इरफान सोलंकी को बताया बाहुबली विधायक
पुलिस ने एक पन्ने का संक्षिप्त जवाब देने के अलावा इस प्रकरण से जुड़ी कहानी, साक्ष्य और फोटोग्राफ्स से जुड़े 20 पन्नों की विस्तृत आख्या दाखिल की है। पुलिस की रिपोर्ट में कहा गया है कि इरफान सोलंकी बाहुबली विधायक हैं। उनके खिलाफ कानपुर और उन्नाव में 18 मुकदमे गंभीर धाराओं में दर्ज हैं। संगठित रूप से गिरोह बनाकर औने पौने दामो में जमीनो को बलपूर्वक खरीदना, सरकारी जमीनों पर कब्जा करना, बलपूर्वक कब्जा की गयी जमीनों पर फ्लैट बनाकर महंगे दामों में बेचने के आरोप विधायक के खिलाफ हैं।

इरफान ने असरफ अली के नाम बुक कराई थी प्‍लेन की ट‍िकट
उनके खिलाफ गैंगस्टर का मुकदमा भी दर्ज है। उनके इसी आपराधिक रिकार्ड को देखते हुए जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने भी सख्त टिप्पणी की थी कि एक जनप्रतिनिधि से ऐसे कृत्य की उम्मीद नहीं की जा सकती। पुलिस का आरोप है कि इरफान सोलंकी को पता था कि उनके पास जो ई टिकट नंबर 85335 का हवाई यात्रा का टिकट है वह असरफ अली के नाम से है।

बहन नूरी सौकत के बैंक खाते से आनलाइन क‍िया गया था पेमेंट
असरफ अली के नाम का हवाई टिकट जिसका भुगतान भी असरफ अली की सगी बहन नूरी सौकत के बैंक खाते से आनलाइन किया गया था। कूटरचित पहचान पत्र जिसमें असरफ अली का नाम तथा इरफान सोलंकी का फोटो लगाया गया था का प्रयोग कर इरफान सोलंकी द्वारा 11 नवंबर 2022 को इंडिगो की विमान संख्या 6E2138 से दिल्ली से मुम्बई के बीच हवाई यात्रा की गई।

रिपोर्ट में पुलिस ने उस फोटो को भी साक्ष्य के तौर पर प्रस्तुत किया है, जोकि दिल्ली व मुम्बई एयरपोर्ट का है। जबकि रिकार्ड बताता है कि इरफान सोलंकी नाम के किसी व्यक्ति ने उस दिन विमान यात्रा नहीं की। यानी उन्होंने कूटरचित पहचान का सहारा लिया। पुलिस ने दावा किया है कि नूरी शौकत का भाई असरफ अली 11 नवंबर 2022 को कानपुर में ही था और एयरपोर्ट पर उसका वीडिया न मिलना भी साबित करता है कि यात्रा इरफान सोलंकी ने ही की थी।

होटल में भी किया था कूटरचित पहचान पत्र का प्रयोग
पुलिस ने दावा किया है कि इरफान सोलंकी द्वारा नूरी शौकत तथा अम्मार इलाही के सहयोग से कानपुर से दिल्ली की यात्रा नोएडा होते हुए की गई। नोएडा के होटल हैप्पी स्टे में वह 10 नवंबर 2022 को रात में रुके, जिसमें भी उन्होंने कूटरचित पहचान पत्र का प्रयोग होटल बुक कराने के लिए किया था। होटल का कमरा संख्या 301असरफ अली के नाम पर बुक किया गया था। पुलिस ने अदालत से कहा है कि अगर विधायक को जमानत दी गई तो वह गवाहों को डराएंगे, जिससे अन्य मुकदमों में नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।


Information is Life