कानपुर के “हर्षद मेहता” शेयर ब्रोकर संजय सोमानी को 22 करोड़ के घोटाले में 3 और सीए को 5 साल की सजा।

वर्ष 1994 में इलाहाबाद बैंक कानपुर में हुआ था घोटाला, 30 साल बाद आया फैसला लखनऊ। बहुचर्चित संजय...

IAS-IPS अफसरों की सियासत में एंट्री : आज इस्तीफा कल चुनाव।

IAS-IPS In Politics : 1993 में केंद्रीय गृह सचिव नरिंदर नाथ वोहरा की अगुआई में एक कमेटी बनी। इसे...

IIT से बीटेक, फिर IPS और अब IAS टॉपर काफी रोचक है आदित्य श्रीवास्तव की कहानी

आदित्य के पिता अजय श्रीवास्तव सेंट्रल ऑडिट डिपार्टमेंट में AAO के पद पर कार्यरत हैं। छोटी बहन...

कानपुर लोकसभा चुनाव 2024 : विकास के लिए समर्पित सांसद को चुनेंगे मतदाता।

(अभय त्रिपाठी) कानपुरः यूपी की कानपुर लोकसभा सीट को मैनचेस्टर ऑफ यूपी के नाम से जानी जाती है।...

Kanpur : भाजपा प्रत्याशी रमेश अवस्थी ने इंडी गठबंधन के प्रभाव वाले कैन्ट, आर्यनगर और सीसामऊ में तेज की कदमताल..

आर्यनगर की गलियों में जाकर जनता से मिले, मिला जनसमर्थन कानपुर। जैसे-जैसे मतदान की तारीख नजदीक आ...

Kanpur : भाजपा प्रत्याशी रमेश अवस्थी ने इंडी गठबंधन के प्रभाव वाले कैन्ट, आर्यनगर और सीसामऊ में तेज की कदमताल..

-आर्यनगर की गलियों में जाकर जनता से मिले, मिला जनसमर्थन कानपुर। जैसे-जैसे मतदान की तारीख नजदीक आ...

इतिहास के पन्नों में : कानपुर के इस इलाके को आखिर कैसे मिला तिलक नगर नाम??

(अभय त्रिपाठी) कानपुर : उत्तर प्रदेश की राजधानी तो नहीं है, पर इस सूबे का सबसे खास शहर तो है। एक...

#Kanpur : लोकसभा प्रत्याशी आलोक मिश्र और विधायक समेत 200 लोगों पर केस दर्ज, अमिताभ बोले लोकतंत्र नहीं लाठीतंत्र।

यूपी के कानपुर (Kanpur) में इंडिया गठबंधन (India Alliance) के लोकसभा प्रत्याशी और समाजवादी पार्टी...

Kanpur : चोरों के हौसले बुलंद,स्वरूप नगर में दिनदहाड़े चोर स्कूटी लेकर रफूचक्कर।

कानपुर : बेखौफ अपराधी पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था को धता बताते हुए शहर में ताबड़तोड़ चोरी की वारदातों...

Kanpur News : मरीजों की सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं हैः मुख्य सचिव

कानपुर। प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा कि मरीजों की सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं है।...
Information is Life

  अभय त्रिपाठी / कानपुर : छोटे से गाँव के किसान परिवार में जन्मे, संघ की पृष्ठ भूमि से आने वाले रमेश अवस्थी, राजनीतिक गलियारों संग सामाजिक एवं पत्रकारिता क्षेत्र में जाना माना नाम है। यह वर्तमान में उत्तर प्रदेश के कानपुर से भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य हैं, एवं भाजपा की उत्तर प्रदेश स्वच्छता अभियान समिति के कानपुर से सदस्य रहे हैं। रमेश अवस्थी हिंदी राजभाषा सलाहकार समिति भारत सरकार के सदस्य भी रह चुके हैं। इन्होंने पूरे भारत में ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिंदी को बढ़ावा देने की दिशा में बड़े स्तर पर काम किया है, साथ ही भाजपा कानपुर- बुंदेलखंड क्षेत्र की राजनीति में एक दसक से अधिक समय से निरंतर सक्रिय हैं। रमेश अवस्थी वर्ष 2014 एवं 2019 में बाँदा लोकसभा क्षेत्र, उत्तर प्रदेश– से लोकसभा टिकट के प्रमुख दावेदार रह चुके हैं। रमेश अवस्थी कानपुर में कई ऐतिहासिक सामाजिक कार्यक्रमों के आयोजन कराने के लिए भी जाने जातें हैं, जिसके माध्यम से ज़मीनी स्तर पर सीधे आम जनमानस से उनका जुड़ाव रहता है। भारतीय जनता पार्टी की नीतियों को जन जन तक पहुँचने के लिए निरन्तर कार्य करते रहतें हैं। रमेश अवस्थी द्वारा निरंतर विगत कई वर्षों से अटल जी के जन्मदिवस पर कवि सम्मेलन आयोजित किया जाता है, साथ ही यह प्रति वर्ष वाल्मीकि महोत्सव, कानपुर आम महोत्सव, होली मिलन, एवं ज़मीनी स्तर पर कई सामाजिक कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं, जिसमें कानपुर के हर वर्ग की प्रतिभागिता रहती है। यह ही नहीं रमेश अवस्थी प्रतिवर्ष कानपुर में कानपुर आम महोत्सव एवं दिल्ली में भारत आम महोत्सव आजोजित करने लिए के लिए चर्चा में रहते हैं।

संघ की पृष्ठभूमि से आते हैं रमेश अवस्थी  

अपने बाल्यकाल से ही संघ की विचारधारा से जुड़े, रमेश अवस्थी छात्र संघ के अध्यक्ष के रूप में राजनीति में सक्रिय हुए, तबसे निरंतर राजनीति, सामाजिक एवं पत्रकारिता क्षेत्र में काम किया एवं राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम किया

रमेश अवस्थी की पारिवारिक, राजनीतिक पृष्ठभूमि 

इनके पारिवारिक बड़े भाई डॉ.ब्रह्म दत्त अवस्थी 1967 में भारतीय जनसंघ से टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं, एवं आपातकाल में जेल भी गए, रमेश अवस्थी स्वयं बाल्यकाल से राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़ें हुए हैं, रमेश अवस्थी बचपन से ही अपने गाँव में संघ की सखाओं का आयोजन करते थे। रमेश अवस्थी का बचपन से ही राजनीति से ख़ासा लगाओ रहा है। रमेश अवस्थी वर्ष 1990 में छात्र संघ के अध्यक्ष भी रह चुकें हैं। एस डी कॉलेज कानपुर से विधि स्नातक करने के दौरान छात्र राजनीति में सक्रिय रहें हैं, यह कानपुर के एस.डी कॉलेज, हलीम मुस्लिम कॉलेज एवं डीएवी कॉलेज के छात्र भी रहे हैं, इस कारण आज भी इनका कानपुर की राजनीति में ख़ासा दखल माना जाता है।  

रमेश अवस्थी के दो पुत्र एवं एक पुत्री है 

बड़े पुत्र- सचिन अवस्थी पूर्व में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा, उत्तर प्रदेश में प्रदेश कार्यसमिति सदस्य रह चुकें हैं। साथ ही श्री राम सेवा मिशन के राष्ट्रीय संजोजक हैं, जिसके माध्यम से सामाजिक कार्यों में सक्रिय रहते हैं एवं पत्रकारों के संगठन नेशनल मीडिया क्लब के अध्यक्ष है और अपना व्यवसाय करते हैं। 

छोटे पुत्र – शुभम् अवस्थी सर्वोच्य न्यायालय में अधिवक्ता हैं एवं सामाजिक हित में अपनी जनहित याचिकाओं के लिए जाने जाते हैं, दिल्ली बार काउंसिल में लीगल ऐड कमेटी के सदस्य रहे है एवं लोगों की निःशुल्क क़ानूनी सहायता करने के लिए भी जाने जाते है। यह वर्तमान में सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन एवं दिल्ली हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के सदस्य हैं। 

पुत्री – डॉक्टर प्रियम अवस्थी ओरल एंड मैक्सोफ़ेशियल सर्जन हैं। 

सामाजिक गतिविधियाँ 

हाल में ही राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के पूर्व कानपुर में उत्तरप्रदेश की सबसे भव्य एवं बड़ी सनातन यात्रा का आयोजन किया था, जिसमें रेसलिंग आइकॉन द ग्रेट खली भी शामिल हुए थे। इस यात्रा में कानपुर के लोगों ने भारी संख्या में हिस्सा लिया था। यात्रा के द्वरान प्रभु श्री राम पर आधारित कैलेंडर एवं भगवत गीता का वितरण किया गया था, रमेश अवस्थी प्रति वर्ष कानपुर में वाल्मीकि जयंती पर वाल्मीकि महोत्सव का आयोजन करते हैं और स्वच्छता एवं सामाजिक क्षेत्र में कार्य कर रहे लोगों को सम्मानित करते हैं। साथ ही इस वर्ष वाल्मीकि महोत्सव एवं सनातन संवाद का आयोजन किया, आयोजन में रामायण में माता सीता का किरदार निभाने वाली दीपिका चिखलिया भी शामिल हुई थी। इस अवसर पर कानपुर भाजपा के एवं सामाजिक कार्य कर रहे पदाधिकारियों सहित वरिष्ठ जनों को सम्मानित भी किया था।

क्यों चर्चा में रहते हैं रमेश अवस्थी? 

देश की राजधानी दिल्ली में भारत आम महोत्सव एवं कानपुर में कानपुर आम महोत्सव के द्वारा दुनिया भर में देश के आम की विभिन्न प्रजातियों को पहुंचाने और किसानों को समृद्ध बनाने के लिए भी रमेश अवस्थी द्वारा सराहनीय कार्य किए जा रहे हैं। यह एक दसक से अधिक समय से कानपुर एवं दिल्ली में आम महोत्सव का आयोजन करते आ रहें है इस आयोजन में आम उत्पादक किसान हिस्सा लेते है एवं उनको सम्मानित भी किया जाता है पिछले वर्ष रमेश अवस्थी ने भारत कि राजधानी दिल्ली में देश का सबसे बड़ा और चर्चित भारत आम महोत्सव का आयोजन किया था। इस भव्य आम महोत्सव में 14 देशों के राजदूतों के साथ 16 केंद्रीय मंत्री एवं कई राज्यों के विभिन्न दलों के मा. सांसदों एवं कई राजनीतिक दलों के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया एवं कार्यक्रम कि सराहाना की। यह भव्य आयोजन दिल्ली के वेस्टर्न कोर्ट परिसर में आयोजित हुआ था।  कार्यक्रम का उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि दिल्ली के उपराज्यपाल माननीय विनय कुमार सक्सेना जी ने किया था साथ ही आम उत्पादक किसानों को बढ़ावा एवं सम्मानित करने के लिए रमेश अवस्थी की सराहाना भी की थी। इस महोत्सव में भारत देश के कई दलों के बड़े राजनेताओं, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों, फ़िल्म जगत के जाने माने अभिनेताओं, प्रतिष्ठित एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ ही मीडियाकर्मी, वरिष्ठ कानून अधिकारी और सरकारी क्षेत्रों के कई अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने भी शिरकत की थी।

रमेश अवस्थी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सनातन संस्कृति के लिए प्रतिबद्ध, श्रीराम सेवा मिशन के संरक्षक भी हैं। जिसके माध्यम से भी यह कई सामाजिक कार्य करते रहतें हैं, इसके साथ ही कोरोना महामारी के दौरान रमेश अवस्थी ने आम जन की हर संभव मदद भी की।

स्वच्छ भारत, सुंदर भारत अभियान के लिए किए कई कार्य 

नेशनल मीडिया क्लब के माध्यम से स्वच्छता के प्रति काफ़ी कार्य कर चुकें है, जिसमें दिल्ली में देश का पहला स्वच्छता कार्यक्रम एवं स्वच्छ भारत सुंदर भारत के लिए स्वच्छता टोल फ्री नंबर जारी करना, साथ ही उत्तर प्रदेश में स्वच्छता अभियान को गति देने के लिए प्रदेश का पहला स्वच्छता सम्मान समारोह लखनऊ में आयोजित किया, साथ ही उत्तर प्रदेश के लिए स्वच्छता का टोल फ्री नंबर जारी किया, मथुरा में देश का सबसे बड़ा स्वच्छता संकल्प अभियान आयोजित किया, गोवर्धन परिक्रमा मार्ग एवं बाँके बिहारी पर सफ़ाई अभियान स्वच्छता नवरत्न हास्य कलाकार स्व. राजू श्रीवास्तव के साथ चलाया, स्वच्छ भारत मिशन को आगे बढ़ाते हुए उत्तरप्रदेश एवं दिल्ली में स्वच्छता पर आधारित चित्रों कि प्रतियोगिता करायी एवं चित्रों को एक कैलेंडर का रूप देते हुए कैलेंडर का विमोचन किया, साथ ही 100 से अधिक वाहनों के साथ देश की पहली 5 दिवसीय हरिद्वार से वाराणसी तक की स्वच्छता जन जागरण जागरूकता यात्रा निकाली, रमेश अवस्थी के नेतृत्व में ही स्वच्छता प्रहरी ने जम्मू से कन्याकुमारी तक रिकॉर्ड समय में 3500 किमी तक साइकिल चला कर स्वच्छता के प्रति लोगो को जागरूक किया जिसके लिये यात्रा को लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज किया गया। साथ ही प्रतिवर्ष इनके द्वारा उत्तर प्रदेश की मीडिया डायरेक्टरी प्रकाशित की जाती है, 

पिछली साल मिल चुके हैं यह अंतरराष्ट्रीय अवार्ड 

रमेश अवस्थी को वर्ष 2022 में लंदन में सामाजिक क्षेत्र में उत्कृष्टता की श्रेणी के लिए ग्लोबल ह्यूमैनिटेरियन अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है। 

लंदन में हिन्दी दिवस पर वर्ष 2023 में वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स लंदन द्वारा इंटरनेशनल एक्सीलेंस अवार्ड से सम्मानित किया गया एवं एवं लंदन में ही लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से भी सम्मानित किया गया है।

रमेश अवस्थी अपनी स्वच्छ, ईमानदार, कर्मठ व्यक्तित्व एवं अपने मृदभासी स्वभाव के लिए जाने जाते हैं यह ही कारण है जिससे आमजनमानस में वह काफ़ी लोकप्रिय है वह निरंतर अपने सामाजिक कार्यों के ज़रिए लोगो से सीधा जुड़ाव रखते हैं बात करें तो रमेश अवस्थी का राजनीतिक प्रभाव कानपुर से सटे कई ज़िलों में माना जाता है अपने व्यक्तित्व एवं कार्यशैली से रमेश अवस्थी ने आम जनमानस सहित सभी लोगों के दिलों में अपनी अलग पहचान बनायी जिसके लिए लोगों से उनका सीधा जुड़ाव रहता है।


Information is Life