Jyoti Murder Case Kanpur: हत्यारें पीयूष को न्यायालय से राहत नहीं…

अपर जिला जज कोर्ट ने 2022 में सुनाई थी छह को उम्र कैद की सजा.. उच्च न्यायालय से नहीं मिली राहत तो...

Kanpur लायर्स चुनाव का परिणाम घोषित,अध्यक्ष श्याम नारायण सिंह और अभिषेक तिवारी बने महामंत्री।

कानपुर : लायर्स एसोसिएशन के नये अध्यक्ष और महामंत्री चुन लिये गये हैं। .बुधवार देर शाम अध्यक्ष पद...

कानपुर के पोस्टर पर मचा बवाल राहुल गांधी ‘कृष्ण’ और अजय राय बने अर्जुन….

राहुल गांधी की भारत जोड़ा न्याय यात्रा कानपुर पहुंची है. कानपुर के एक कांग्रेस नेता द्वारा लगवाया...

पश्चिम बंगाल में रिपब्लिक बांग्ला के रिपोर्टर को किया गिरफ्तार,जर्नलिस्ट क्लब ने की कड़ी निन्दा।

पश्चिम बंगाल में ‘रिपब्लिक बांग्ला’ टीवी न्यूज़ चैनल के पत्रकार सन्तु पान को गिरफ्तार कर लिया गया...

रेड टेप कल्चर’ को ‘रेड कार्पेट कल्चर’ में बदला, UP ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में बोले PM मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं जब भी विकसित भारत की बात करता हूं तो इसके लिए नई सोच की बात करता...

IPS Amitabh Yash: एनकाउंटर स्पेशलिस्ट अमिताभ यश बने यूपी के नए ADG ला एंड ऑर्डर, जाने इनके बारे में।

IPS Amitabh Yash: यूपी पुलिस के सबसे चर्चित अधिकारियों में शामिल आईपीएस अमिताभ यश एडीजी ला एंड...

Kanpur News : पूर्व शिक्षा मंत्री अमरजीत सिंह जनसेवक का निधन

पूर्व शिक्षा मंत्री अमरजीत सिंह जनसेवक (71) का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि ठंड लगने से...

यूपी में पांच आईपीएस अफसरों का तबादला। विपिन मिश्रा कानपुर में एडिशनल सीपी।

यूपी में पांच आईपीएस अफसरों का तबादला। विपिन मिश्रा कानपुर में एडिशनल सीपी। कमलेश दीक्षित डीसीपी...

#Kanpur News : जेके कैंसर बने रीजनल सेंटर, बढ़ेंगी सुविधाएं…

➡️चौथी बार उठी मांग, विधानसभा की याचिका कमेटी को दिया गया पत्र। कानपुर। जेके कैंसर को रीजनल सेंटर...

राज्यसभा चुनाव: सुधांशु त्रिवेदी, अमरपाल मौर्या और आरपीएन सिंह बीजेपी से प्रत्याशी, बीजेपी ने जारी की सूची

Rajya Sabha elections: राज्यसभा की दस सीटों के लिए होने वाले चुनाव में बीजेपी की तरफ से सुंधाशु...
Information is Life

नजीराबाद थाना क्षेत्र के अशोक नगर इलाके में सनसनीखेज वारदात हुई है। सुसाइड की सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो शव पंखे के कुंडे से फांसी के फंदे पर लटक रहा था। मायके वालों ने कारोबारी पति समेत 8 ससुररालीजनों पर दहेज हत्या का मुकादमा दर्ज कराया है।

कानपुर- शहर में हाईप्रोफाइल फेमश सब्जी मसाला उत्पाद के डिस्ट्रीब्यूटर की पत्नी की संदिग्ध हालात में शुक्रवार की देर रात मौत हो गई। विवाहिता का शव कमरे के अंदर फांसी के फंदे पर लटका मिलने से सनसनी फैल गई। मायके वालों ने सब्जी मसाला कारोबारी पर पत्नी की हत्या के बाद शव फांसी के फंदे पर लटकाने का आरोप लगाकर मृतका के पति सूर्यंश खरबंदा, सास निशा, फूफा भरत ग्रोवर, बुआ मीनाक्षी और अन्नु खुल्लर, बहनोई पुनीत कोटवानी, नन्द निकिता कोटवानी और तनया ग्रोवर के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र और दहेज हत्या जैसी गम्भीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करवाया है। जिसमें से फूफा और बुआ को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और पूछताछ की जा रही है। वहीं ससुरालीजन आत्महत्या करने की बात कह रहे हैं। घटनास्थल पर फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य एकत्र किए है और पुलिस ने शव पोस्टमार्टम में भेजकर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

काकादेव निवासी प्लास्टिक के जरीकैन की फैक्ट्री संचालक पवन ग्रोवर ने बेटी आंचल की शादी 9 फरवरी 2019 को नजीराबाद थानांतर्गत अशोक नगर निवासी नामचीन सब्जी मसाला उत्पाद के डिस्ट्रीब्यूटर सूर्यांश खरबंदा से की थी। शुक्रवार रात करीब दो बजे सूर्यांश के घर से पुलिस को आंचल के आत्महत्या करने की सूचना दी गई। इसपर पुलिस सूर्यांश के घर पर पहुंची तो आंचल का शव कमरे में पंखे के कुंडे से लटक रहा था। घर से सूर्यांश समेत सभी परिवारी सदस्य फरार थे। इसपर पुलिस ने मायके में घटना की सूचना दी।

जानकारी मिलते ही पवन ग्रोवर, उनके बेटे अक्षय ग्रोवर व रिश्तेदार अशोक नगर पहुंच गए। पिता पवन ग्रोवर ने बताया कि शादी के बाद से बहन को दहेज के लिए सूर्यांश अक्सर तंग करता था। अपनी हैसियत से ज्यादा उसे दहेज दे चुके थे लेकिन सूर्यांश लगातार उनपर लगातार कारोबार के लिए 70 लाख देने का दबाव बना रहा था। उन्होंने आरोप लगाया कि सूर्यांश के अन्य युवतियों से अवैध संबंध हैं और वह उनकी बेटी को प्रताड़ित करता था। 12 नवंबर को जेवर चुराकर सूर्यांश ले जाने लगा तो आंचल ने देख लिया। इसपर आंचल ने पुलिस को सूचना दी लेकिन सूर्यांश के दबाव में पुलिस कर्मी वापस लौट गए। इसके बाद 13 नवंबर को फिर सूर्यांश और आंचल के बीच जेवर को लेकर बहस हुई लेकिन पुलिसने कोई कार्रवाई नहीं की।

पिता पवन ने आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने से सूर्यांश का हौसला बढ़ गया और उसने आंचल की हत्या करके आत्महत्या का रूप देने के लिए शव पंखे के कुंडे से फांसी के फंदे पर लटका दिया। एसीपी नजीराबाद संतोष कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर आंचल की मौत की वजह स्पष्ट हो सकेगी।

वायरल

वायरल व्हाट्सएप चैट से घटना में नया मोड़ आ गया। परिवार वालों का दावा है कि बेटी आंचल ने चैट के जरिए अपनी और दो साल के बेटे आयांश की जान का खतरा बताया था। यह मैसेज 15 नवंबर की शाम 07 बजकर 53 मिनट पर किया गया है। अपनी चैट में आंचल लिखती हैं कि पापा मेरी बात ध्यान से सुनिए मेरी और आयांश की जान को खतरा है। किरण और राधा दोनों लड़कियां मिली हुई हैं। इस साजिश में। आगे लिखा कि आप प्लीज पुलिस को इंफार्म कर दीजिए।


Information is Life